होम Editorial करवा चौथ: कब दिखेगा चांद, कथा और पूजन विधि

करवा चौथ: कब दिखेगा चांद, कथा और पूजन विधि

शेयर करें

नई दिल्ली। करवा चौथ सुहागनों का दिन। इस दिन हर पत्नी अपने पति की लम्बी उम्र के लिए व्रत रखती है। साज-सिंगार करती है। इस बार यह दिन 27 अक्टूबर को पड़ रहा है। जिसकी तैयारियां पूरी हो गई हैं। आज से ही बाजारों में रौनक बढ़ गई है। महिलाएं बाजारों में जाकर व्रत के लिए सामान खरीदती है, मेहंदी लगवाती है। सुहाग का सामान लेती हैं।

इसे भी पढ़ें: CBI केस: सुप्रीम कोर्ट में संग्राम, सड़क पर सियासत!

इस तरह होती है करवा चौथ की पूजा

इस दिन सोने, चांदी और मिट्टी के करवे से पूजा होती है। करवा चौथ पर परिवार और आस-पास की महिलाएं एक साथ पूजा करती हैं। इस दौरान वे एक-दूसरे के साथ करवे का आदान-प्रदान करते हुए मंगल गीत गाती हैं, और मां गौरी और गणपति से सौभाग्य देने की कामना करती हैं। पूजा के बाद चांद को अर्ध्य दिया जाता है। फिर महिलाएं परिवार के बड़े-बुजुर्गों से आशीर्वाद लेती हैं।

इसे भी पढ़ें: सूरत का हीरा कारोबारी इस बार 600 वर्कर को देगा यह दिवाली तोहफा

कल इस समय निकलेगा चांद

करवा चौथ पर महिलाएं पूरे दिन व्रत रखती हैं और रात को चांद देखकर उसे अर्घ्य देकर व्रत खोलती हैं। करवा चौथ मुहूर्त करवा चौथ पूजा मुहूर्त: 5:40 से 6:47 तक करवा चौथ चंद्रोदय समय 7 बजकर 55 मिनट।

इसे भी पढ़ें: बिहार 2019 लोकसभा चुनाव: एनडीए में हो चुका है सीटों का बंटवारा, जेडीयू

Loading...

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहां दर्ज करें