होम Mukh Samachar बिहार से भागा भूत, सूबे के हर घर तक पहुंची बिजली: नीतीश...

बिहार से भागा भूत, सूबे के हर घर तक पहुंची बिजली: नीतीश कुमार

शेयर करें
प्रतीकात्मक इमेज

नई दिल्ली। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि, अब बिहार से भूत भाग जाएगा। क्योंकि अब हर घर में बिजली जो पहुंचने वाली है। जिसके चलते हर घर में उजाला ही उजाला होगा। हले लोग अपने बच्चों को गांवों में नियंत्रित करने के लिए डराते थे कि बाहर मत जाओ, वहां भूत है। अब कोई नहीं डराता। इस तरह बिजली ने सामाजिक बदलाव भी लाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोगों का निश्चय था कि 31 दिसंबर- 2018 तक बिहार के हर घर में बिजली कनेक्शन दे देंगे। लक्ष्य से दो महीने पहले ही सभी घरों में बिजली पहुंचा दी गई है। यह बहुत बड़ी खुशी की बात है। इसके लिए हम ऊर्जा विभाग को बधाई देते हैं।

इसे भी पढ़ें: बिहार: उपेंद्र कुशवाहा का दावा, नीतीश कुमार नहीं बनना चाहते अगला सीएम

‘हर घर बिजली’ निश्चय पूरा होते ही मुख्यमंत्री ने नया संकल्प लिया और ऊर्जा विभाग को नया टास्क भी दिया। कहा कि 31 दिसंबर- 2019 तक राज्य के सभी जर्जर तारों को बदल दें और कृषि फीडर स्थापित कर दें। बिलिंग सिस्टम को और दुरुस्त करें। इससे विद्युत कंपनियों का घाटा 15 फीसदी से भी कम हो जाएगा। मुख्यमंत्री गुरुवार को बापू सभागार में बिहार की विद्युत कंपनियों के छठे स्थापना दिवस पर आयोजित समारोह में बोल रहे थे।

इसे भी पढ़ें: बिहार: सीट बंटवारे को लेकर सस्पेंस जारी, बीजेपी से कुशवाह की बातचीत का नहीं निकला कोई हल

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिजली उत्पादन, संचरण और वितरण सभी क्षेत्र में काम किया गया। 2005 में जहां बिहार में सिर्फ 700 मेगावाट बिजली आपूर्ति होती थी, वहीं आज यह बढ़कर 5000 से भी अधिक मेगावाट पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि शाम ढलने के बाद गया से पटना हेलीकॉप्टर से आते समय देखा कि पूरे 100 किमी में कहीं अंधेरा नहीं है। गावों में भी पूरी रोशनी थी। उन्होंने कहा कि फ्रांस समेत कई देशों के अतिथि आए हैं। अधिकारी उन्हें हेलीकॉप्टर से यह दृश्य दिखाएं।

इसे भी पढ़ें: बिहार सीटों को लेकर आज अमित शाह से मुलाकात करेंगे उपेंद्र कुशवाह

सौर ऊर्जा ही असली बिजली

सौर ऊर्जा के लिए कजरा और पीरपैंती में 250-250 मेगावाट का सोलर पावर प्लांट लग रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सौर ऊर्जा ही असली बिजली है। सूर्य अक्षय है। यह हमेशा रहेगा। लोगों के बीच इसको लेकर जागरूकता फैलानी चाहिए। लोग बाद में सौर ऊर्जा को ही अधिक पसंद करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 अगस्त 2012 को हमने कहा था कि बिजली के क्षेत्र में सुधार नहीं लाएंगे तो 2015 में वोट मांगने नहीं आएंगे। 2015 चुनाव के पहले हमने सात निश्चय किया। इस पर सरकार बनने के बाद काम शुरू किया। इसी में एक निश्चय था, हर घर बिजली कनेक्शन।

इसे भी पढ़ें: मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: मंजू वर्मा के पति ने किया सरेंडर

Loading...

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहां दर्ज करें