Home Blog Page 3

बिहारी छात्रों का बजा डंका, निबंध प्रतियोगीता में मारी बाजी

बिहार
biharmedia news

बिहारी बच्चों ने एक बार फिर अपना परचम लहराया है । उन्होंने यह साबित कर दिया है की पढ़ाई के साथ-साथ वो सभी कार्यों मे अव्वल है । जैसा की हम जानते है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वच्छता अभियान छेड़ा गया है। इसके लिए तरह-तरह के कैंपेन भी चलाए जा रहे हैं, जिससे लोगों को स्वच्छता की ओर जागरूक किया जा सके | इसके लिए देश भर में पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा एक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था. जिसका विषय था ‘स्वच्छ संकल्प से स्वच्छ सिद्धि तक’| जिसमें जूनियर और सीनियर बच्चों को स्वच्छता और साफ-सफाई पर निबंध लिखना था।

स्वच्छता और साफ-सफाई पर आयोजित इस निबंध प्रतियोगिता में जूनियर और सीनियर दोनों ही ग्रुप में बिहार के बच्चे देशभर में अव्वल आए हैं। जूनियर में आठवीं कक्षा के विकास प्रसाद और सीनियर में नौवीं कक्षा की चंद्रकांता नैना ने यह सफलता हासिल की है। वही देशभर में नवोदय विद्यालयों से चुने गए 20 बच्चों में से आधे बिहार के हैं।

जिन्हें 2 अक्तूबर को गांधी जयंती पर दिल्ली के विज्ञान भवन में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुरस्कृत करेंगे। इसके साथ बिहार के 10 छात्र-छात्राएं प्रधानमंत्री के साथ स्वच्छता पर संवाद करेंगे।

रेल यात्रियों को मिला ‘हमसफर’ का साथ

रेलवे
साभार-गूगल

त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है। दशहरा चल रहा है| इसके अलावा दिवाली, छठ जैसे महत्वपूर्ण पर्व भी आने वाले हैं। बाहर काम कर रहे लोग इन त्योहारों में घर लौटना चाहते हैं और ट्रेनों में टिकट को लेकर मारामारी चल रही है। पूजा के दौरान यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए रेलवे ने विशेष ट्रेनों का परिचालन शुरू किया है ।

इसी के तहत 08449 भुवनेश्वर-पटना हमसफर स्पेशल, भुवनेश्वर से 29 सितंबर से 24 नवंबर तक दिन के 3.35 बजे खुलकर अगले दिन 11.40 बजे पटना जंक्शन पहुंचेगी। 08450 पटना-भुवनेश्वर हमसफर स्पेशल पटना से 30 सितंबर से 25 नवंबर के बीच प्रत्येक शनिवार को दिन के 2 बजे खुलकर अगले दिन 7 बजे भुवनेश्वर पहुंचेगी।

वैसे यात्रियों कि बेहतर सुविधा को देखते हुए भारतीय रेलवे ने और भी कई विशेष ट्रेनों का परिचालन त्योहारों के मद्देनजर शुरू किया है।

बालू, मिट्टी व पत्थर ढोने वाली गाड़ियों पर GPS लगाना अनिवार्य

बिहार
साभार-गूगल

बालू व पत्थर की अवैध तस्करी को देखते हुए नीतीश कैबिनेट ने बड़ा फैसला लिया है।  खान एवं भूतत्व विभाग ने अल्टीमेटम के बाद अब बालू, पत्थर और मिट्टी ढ़ोने वाली सभी गाड़ियों को अनिवार्य रूप से जीपीएस लगाना होगा। इस बाबत निर्देश जारी करते हुये जीपीएस लगाने की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर तय कर दी गई है|

गौरतलब है कि,पिछले कुछ दिनों से अवैध बालू की तस्करी को देखते हुए सरकार ने बालू निकासी पर अनिश्चितकालीन के लिए रोक लगा दिया है।सरकार के इस कदम से अवैध धंधेबाजों पर लगाम लगेगा,जिससे सरकार के राजस्व में बढ़ोतरी होगी।

 

मैट्रिमोनियल वेबसाइट पर हुई जालसाजी….

पतंजलि

आम तौर पर मैट्रिमोनियल साइट्स आपको अपने जीवन साथी को चुनने का बेहतरीन जरिया माने जाते हैं। लेकिन इन साइटों के जरिए धोखाधड़ी किये जाने की संभावना भी काफी होती है। कई बार इससे संबंधित शिकायतें भी सामने आती हैं। इस बार राजधानी पटना में भी एक युवती ऐसी ही धोखाधड़ी की शिकार हुई है। इस युवती ने पटना के एसएसपी मनु महाराज को व्हाट्सएप के जरिए अपने साथ हुई जालसाजी की जानकारी दी है और मामले में न्याय की गुहार लगाई है।

पीड़ित युवती के मुताबिक उसने मेट्रिमोनियल साइट्स पर अपना प्रोफाइल बना रखा था। कुछ दिनों पहले किसी ने उससे फोन के जरिए संपर्क साधा और शेखर सिंह नाम के युवक के बारे में उसे जानकारी दी। फोन करने वाले ने बताया कि शेखर सिंह आर्मी में अफसर है और फिलहाल भुनवेश्वर में रहता है। फोन करने वाले ने युवती को शेखर सिंह की तस्वीर एवं उनके रिश्तेदारों का मोबाइल नंबर भी दिया।

फोन के जरिए युवती ने शेखर सिंह और उसके रिश्तेदारों से संपर्क साधा। जल्दी ही दोनों की शादी तय हो गई। शादी से कुछ दिनों पहले शेखर सिंह ने युवती से 20,000 रुपयों की मांग की और नौकरी पर जाने की बात कही। युवती ने झांसे में आकर शेखर सिंह को 20,000 रुपये दे दिये। कुछ दिनों के बाद युवती को शेखर के फेसबुक प्रोफाइल से पता चला कि शेखर पहले से ही शादीशुदा है।

अपने साथ हुई ठगी के बारे में पता चलते ही युवती ने दोबारा शेखर से संपर्क साधा और पैसों की डिमांड की। शेखर ने पैसे लौटाने से इनकार करते हुए युवती को धमकियां दी हैं। अब इस मामले में युवती ने पुलिस के बड़े अधिकारियों से मिलकर न्याय की गुहार लगाई है।

Related Articles