Home Blog Page 2

बिहार: सरकारी विद्यालयों में जनवरी 2018 से होगा ‘सुरक्षित शनिवार’ का आयोजन

बिहार सरकार

बिहार के सभी सरकारी विद्यालयों में अगले साल जनवरी से ‘सुरक्षित शनिवार’ कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। आपदा प्रबंधन विभाग के प्रशिक्षण को लेकर मुख्यमंत्री ने संबंधित विभागों को निर्देश दिया कि यह सुनिश्चित किया जाये कि समय पर सभी इंजीनियर, अधिकारी और कर्मी ट्रेनिंग के लिए संबंधित विद्यालयों में जाएं।
आपदा प्रबंधन विभाग की बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्देश दिया कि आपदा प्रबंधन संबंधित जानकारी के साथ-साथ प्राधिकरण की ओर से कराये जाने वाले निबंध और नारा लेखन प्रतियोगिता की प्रविष्टियों के नारों को सूचना व जनसंपर्क विभाग की ओर से प्रकाशित बिहार डायरी में जगह दी जाये।

औरंगाबाद में छ: साल के मासूम की बेरहमी से हत्या

बिहार में इन दिनों अपराधियों का मनोबल दिन प्रति दिन बढ़ता जा रहा है। अपराधी पुलिस की नाक के नीचे घटना को अंजाम देकर फरार हो जा रहे हैं। ताजा मामला औरंगाबाद जिले के रफीगंज थाना क्षेत्र में अहमदपुर मुहल्ले का है जहाँ छह वर्षीय मासूम की बेरहमी से हत्या कर दी गयी।

खबरों के मुताबिक मृतक अंकित अपने दादा के पास 30 सितम्बर को दशहरा घुमने आया था|दशहरा घूमने के बाद तीन अक्तूबर को वह मुहर्रम के जुलूस को देखने गया था,इसके बाद से वह नहीं लौटा। परिजनों ने चार अक्तूबर को स्थानीय थाना में सूचना दर्ज करायी।

अगले ही दिन पास ही स्थित एक कुएं से अंकित की लाश बरामद की गई। अंकित की हत्या सर कुचलकर की गई है। अब इस मामले में पुलिस जांच में जुटी है।

पटना जिले के दनियावां में महादलितों को दबंगों ने उनके गाँव से खदेड़ा

साभार-गूगल

फतुहा : आज़ादी के 70 वर्ष गुजरने के बाद भी हमारे समाज में दलितों से हो रहे अन्याय में बहुत कमी नहीं आई है। इसकी एक बानगी देखने को मिली पटना जिले के दनियावां के शाहजहांपुर थाना क्षेत्र के एरई एतवारी टोला गांव में,जहाँ दबंगों ने दलितों पर अत्याचार किया है।

खबरों के मुताबिक, एरई एतवारी टोला गांव के कुछ दबंग युवकों ने पहले महादलित परिवार के कुछ सदस्यों के साथ मारपीट की और फिर उनके जानवरों को रखने के लिए बनाए गए झोपड़ी को भी तोड़ दिया। इस मामले में पीड़ित लोगों ने थाने में शिकायत दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की है।

मनोकामनाएं पूर्ण करने को करें मां सिद्धिदात्री की आराधना…..

साभार-गूगल

सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके शरण्ये त्रयम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते…
नौवां रूप सिद्धिदात्री:

सुख, शान्ति एवम समृध्दि की मंगलमयी कामनाओं के साथ नवरात्र के महापर्व की शुरुआत हो चुकी है| नवरात्र को लेकर देश भर में लोगों में उत्साह है। इस महापर्व के नौवें दिन मां के नौवें रूप सिद्धिदात्री की आराधना की जाती है।यह देवी सभी प्रकार की सिद्धियों को प्रदान करने वाली हैं।नव दुर्गाओं में मां सिद्धिदात्री अंतिम हैं।इनकी उपासना के बाद भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है।

पूजा की विधि  :

नौ दिन चलने वाले इस पर्व के नौवें दिन मां की पूजा सिद्धिदात्री के रुप में की जाती है।देवी पुराण कहता है कि शिव ने देवी के इसी स्वरूप से कई सिद्धियां प्राप्त की।शिव के अर्धनारीश्वर स्वरूप में जो आधी देवी हैं वो ये सिद्धिदात्री हैं।ये देवी सारी सिद्धियों का मूल हैं।

श्रद्धालुओं में उत्साह :

नवरात्र को लेकर राजधानी पटना समेत पूरे राज्य में लोगों के बीच गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। शहर के तमाम पूजा पंडाल सज-धज के तैयार हो गए है। नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में मां दूर्गा के नौ रुपों की पूजा की जाती है। मां के भक्त नवरात्र के नौ दिनों तक उपवास रख कर मां की आराधना करते है। ऐसा माना जाता है नौ दिन तक मां के अलग-अलग रुपों की पूजा – अर्चना करने से माता की विशेष कृपा की प्राप्ति होती है।

29 सिंतबर को विश्व हृदय रोग दिवस, डॉक्टरों ने रखी सिगरेट पर पांबदी की मांग

साभार-गूगल

29 सितंबर यानी शुक्रवार को विश्व हृदय रोग दिवस मनाया जाएगा। उससे पहले बिहार की राजधानी पटना में कॉर्डियोलॉजी सोसाइट ऑफ इंडिया की ओर से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया।

कॉन्फ्रेंस में मौजूद चिकित्सकों ने बतलाया कि एक सिगरेट के सेवन से इंंसान की जिंदगी के 7 से 11 मिनट कम हो जाते हैं। सिगरेट को स्वास्थ्य के लिए घातक बताते हुए चिकित्सकों ने राज्य सरकार से सूबे में सिगरेट पर पाबंदी लगाने की मांग की। चिकित्सकों ने राज्य में शराबबंदी की सराहना करते हुए कहा कि शराब बंद होने की वजह से राज्य में ह्रदय से संबंधित बीमारियों में 20 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।

चिकित्सकों ने अपनी राय व्यक्त करते हुए कहा कि सिगरेट पर पाबंदी के नियम को सख्ती से लागू कर ह्रदय से संबंधित रोगों पर काबू पाया जा सकता है।

Related Articles