SHARE

गया: 5 सितंबर से गया में एक पखवारे तक चलने वाला पितरों की मुक्ति का महापर्व पितृपक्ष मेला प्रारंभ होगा। विश्वप्रसिद्व राजकीय पितृपक्ष मेला को यादगार बनाने में जिला प्रशासन और नगर निगम के पदाधिकारी दिन- रात एक हुए है। बस एक ही लक्ष्य है कि पितृपक्ष मेला को यादगार कैसे बनाया जाए। जिला प्रशासन द्वारा शहर में तालाब, वेदियों एवं घाटों की साफ-सफाई कराई जा रही है। नगर निगम द्वारा रामशिला पहाड़ के नीचे स्थित रामकुंड की साफ-सफाई के साथ कई तरह के पोस्टर और बैनर लगाने का काम चल रहा है।

पोस्टर और बैनर कई पिंडदान व तर्पण करते हुए श्रद्धालुओं के चित्रों के साथ है। कई स्लोगन भी लिखे गए हैं। रामकुंड में लगे पोस्टर में हेल्पलाइन नंबर के साथ पितृपक्ष मेला महासंगम 2017, अपना अर्पण ही तर्पण है, पूर्वजों के प्रति हार्दिक श्रद्धा ज्ञापन का आध्यात्मिक अनुराग आदि स्लोगन लिखा गया है। निगम के स्वास्थ्य प्रबंधक शैलेंद्र कुमार सिन्हा ने कहा कि रामकुंड में सभी काम तीन सितंबर तक समाप्त हो जाएगा। तीर्थयात्रियों की सुविधा को लेकर सभी तैयारी की जा रही है। पितृपक्ष मेला में आए तीर्थयात्रियों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़े, इसका ध्यान रखा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here